In hindi story ( हिंदी कहानियां) Badshah fakir aur Wazir - Best Laptop Under 35000

In hindi story ( हिंदी कहानियां) Badshah fakir aur Wazir

in-hindi-story-हिंदी-कहानियां-badshah-fakir-aur-wazir

दुनिया के राज्य का मोल

गुरु से गुरु की ही मांग कीजिए क्योंकि जब वह आपको यह बख्शीश कर देते हैं तो फिर उनके साथ ही सारी चीजें मिल जाती हैं। -सावन सिंह जी महाराज

1 दिन बादशाह दजला नदी के किनारे बैठा गुदड़ी सी रहा था। उसका वजीर शिकार खेलता खेलता उधर आ निकला।

Wazir Ka Badshah se Milana -in hindi story

अब 12 साल में शक्ल बदल जाती है। कहां बादशाही पोशाक कहां फकीरी लिबास। तो भी वजीर ने उसे पहचान लिया। और पूछा आप बादशाह इब्राहीम अधम हो क्या? जवाब मिला हां। वजीर बोला कि देखो मैं आपका वजीर। आपके जाने के बाद मैंने आपके बच्चों को तालीम दी ।

in-hindi-story-हिंदी-कहानियां-badshah-fakir-aur-wazir

शस्त्र विद्या सिखाई पर कितना अच्छा हो की आप अब फिर मेरे बादशाह हो और मैं आपका वजीर। यह सुनकर इब्राहिम अधम ने जिस सुई से वहां गुदड़ी सी रहा था। वह नदी में फेंक दी और कहा कि पहले मेरी सुई ला दो फिर मैं तुम्हें जवाब दूंगा।

Badshah dwara ra sui ko hajir karna -in hindi story

वजीर कहने लगा कि मुझे आधे घंटे की मोहलत दे मैं आपको ऐसी लाख सुई ला दूंगा। बाद शाह ने कहा कि नहीं मुझे तो सुई वही चाहिए। वजीर ने कहा यह तो नामुमकिन है। इतना गहरा पानी वह रहा है वह सुई नहीं मिल सकती। बादशाह बोला कि तुम कुछ नहीं कर सकते।

और वहीं बैठे बैठे तवज्जो दी। एक मछली मुंह में सुई लेकर ऊपर आई। इब्राहिम अधम ने कहा कि मुझे तुम्हारी इस बादशाही को लेकर क्या करना है। मैं अब इस बादशाह का नौकर हो गया हूं। जिसके अधीन सारे खंड ब्रह्मांड कुल कायनात है। अब मैं वह नहीं जो पहले था। मुझे अब उन ब्रह्मांड ओ का अनुभव हो गया है।

Badshah dwara Wazir ko Hidayat dena- in hindi story

जिनके बारे में कभी सोचा भी नहीं जा सकता। जैसे तुम मुझे वह सुई वापस लाकर नहीं दे सकते ऐसे ही तुम उस बादशाह को मुझ में नहीं पा सकते। अब मेरे लड़की जाने या तुम जानो। नाम एक अमूल्य वस्तु है। संत महात्माओं के पास नाम की दौलत होती है इसलिए वह सांसारिक पदार्थों से अनासक्त होते हैं।

Story in hindi (हिंदी कहानी ) Kabir aur Badshah